गुरुवार, 22 दिसंबर 2016

गलतिया – जीवन की सीख


दोस्तो जीवन मे गलतिया हर किसी से होती है और हर किसी को इसका पछतावा भी होता है। हमारे लक्ष्य तक पहुचने मे गलतिया और इनसे मिलने वाली सीख हमेशा मददगार साबित होती है। अगर देख जाए तो जीतने भी बड़े लोग है जिनहोने अपने सपनों को साकार किया है, समाज मे अपने बलबूते पर अपनी एक नयी पहचान बनाई है उन्होने काही न कही न कही अपने गलतियो से जरुर सीखा है। मेरे जीवन भी मुझसे बहूत सी गलतिया हुई है जिनसे सीख लेकर मैंने अपने आप को इस कदर बनाया की मैं 16 वर्ष की उम्र मे मोटिवेशन पोस्ट लिखने लगा। एक समय था जब मुझे मोटिवेशन और भाषण बिलकुल भी अच्छे नहीं लगते थे। मुझे किसी की प्रेरणादायक जीवनीया बिलकुल भी अच्छी नहीं लगती थी।
मेरी पहली गलती यह यह है की मैं कभी कभार इतना उत्सुक हो जाता हु की किसी काम को बिना सोचे-समझे ही कर लेता हु। और यकीन मानिए एसे जीतने भी काम मुझे आज तक हुये है उनमे मैंने गलतिया ही की है। चाहे वो शिक्षा का क्षेत्र हो या आर्थिक क्षेत्र क्यो न हो। और हर बार खुद को दोषी मानने से ज्यादा मैंने उन गल्तियो से सीख ली है।
तो दोस्तो मे भी यही आपको यही राय दूंगा की हर काम को करने से पहले उस पर सोचे ओर अपने से बड़ो की राय ले। कुछ मामले एसे होते है जिनको हमे दूसरों को बताने से परेशानी हो सकती है तो एसे मामलो को अपने दोस्तो के साथ शेयर करे और उनसे सलाह माने, निश्चित ही इसमे आपकी भलाई ही होगी।
अगर हमसे कोई गलती हो जाती है हमे उस गलती के पीछे न रहकर उसके आगे के बारे मे सोचना चाहिए ओर जो हुआ उसे भूलकर एक नए सिरे के साथ शुरुआत करनी चाहिए।
जिस प्रकार रोज सूरज ढलने के बाद अगले दिन एक नया सवेरा होता है उसी प्रकार हमे ये ध्यान मे रखना चाहिए की जो हुआ है उस पर ज्यादा बहस करने से ज्यादा अच्छा यह है की हम उस गलती से सीख लेकर उसे सॉल्व करने की कोशिश करनी चाहिए।
समय हर किसी के लिए बाद ही अनमोन है।  एक बार गया समय दोबारा नहीं आता लेकीन समय की बचत से आप अपने और अपनो के जीवन को जरूर बचा सकते है।
धन्यवाद

एसे ही प्रेरणादायक पोस्ट पढ़ने के लिए मेरे ब्लॉग internetinfo.in पर जाये। 

loading...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Search anything here

Follow by Email